To Make Your Devotional Journey More Blissful,
DevDarshan is now DevDham
Connecting You with Sacred Temples and Vedic Traditions 🙏
आपकी आध्यात्मिक यात्रा को और समृद्धशाली और सुखद बनाने के लिए आपका
देवदर्शन अब है देवधाम
जहां होगा भारत के दिव्य मंदिरों और वैदिक परंपराओं का संगम 🙏


bookendL

bookend
1

2

3

4

bookendL

bookend

t0 Circle

751

Individual Guru Graha Shanti Yagya

व्यक्तिगत गुरु ग्रह शांति यज्ञ

t1 pricecardline
  • CardLow

    Link for Recorded Video of Brihaspati Yagya and Rudrabhishek Puja

  • CardLow

    Individual’s Name and Gotra will be chanted during the Puja Sankalp

  • CardLow

    You can choose to offer Vastra and Bhog to Lord Shiva and Brihaspati

  • CardLow

    You can choose to add Rudraksha Mala for Home Delivery in India

  • CardLow

    Prasad will be shipped to your home from Temple

  • CardLow

    बृहस्पति यज्ञ और रुद्राभिषेक पूजा की रिकॉर्डेड वीडियो का लिंक आपको भेजा जाएगा

  • CardLow

    पूजा संकल्प के समय, व्यक्तिगत नाम और गोत्र का उच्चारण किया जाएगा

  • CardLow

    आप बृहस्पति के साथ भगवान शिव को वस्त्र, भोग भेंट अर्पण करने का चयन कर सकते हैं

  • CardLow

    आप अपने घर तक रुद्राक्ष माला पहुँचाने का चयन कर सकते हैं

  • CardLow

    काशी से प्रसाद आपके घर तक भेजा जाएगा

t1 Circle

1100

Family Guru Graha Shanti Yagya

 परिवार गुरु ग्रह शांति यज्ञ

t1 pricecardline
  • CardLow

    Link for Recorded Video of Brihaspati Yagya and Rudrabhishek Puja

  • CardLow

    Family Members' Name and Gotra (only 6) will be chanted during the Puja Sankalp

  • CardLow

    You can choose to offer Vastra and Bhog to Lord Shiva and Brihaspati

  • CardLow

    You can choose to add Rudraksha Mala for Home Delivery in India

  • CardLow

    Prasad will be shipped to your home from Temple

  • CardLow

    बृहस्पति यज्ञ और रुद्राभिषेक पूजा की रिकॉर्डेड वीडियो का लिंक आपको भेजा जाएगा

  • CardLow

    पूजा संकल्प के समय, परिवार के सदस्यों का नाम और गोत्र (केवल 6) का उच्चारण किया जाएगा

  • CardLow

    आप बृहस्पति के साथ भगवान शिव को वस्त्र, भोग भेंट अर्पण करने का चयन कर सकते हैं

  • CardLow

    आप अपने घर तक रुद्राक्ष माला पहुँचाने का चयन कर सकते हैं

  • CardLow

    काशी से प्रसाद आपके घर तक भेजा जाएगा

t2 Circle

2100

Family Guru Graha Shanti Yagya + Vastra

परिवार गुरु ग्रह शांति यज्ञ + वस्त्र

t1 pricecardline
  • CardLow

    Link for Recorded Video of Brihaspati Yagya and Rudrabhishek Puja

  • CardLow

    Family Members' Name and Gotra (only 6) will be chanted during the Puja Sankalp

  • CardLow

    Vastra will be offered to Lord Shiva along with Brihaspati in your name and the recorded video for the same will be shared with you

  • CardLow

    You can choose to offer Bhog to Lord Shiva and Brihaspati and the video of the Offerings will be shared with you

  • CardLow

    You can choose to add Rudraksha Mala for Home Delivery in India

  • CardLow

    Prasad will be shipped to your home from Kashi

  • CardLow

    बृहस्पति यज्ञ और रुद्राभिषेक पूजा की रिकॉर्डेड वीडियो का लिंक आपको भेजा जाएगा

  • CardLow

    पूजा संकल्प के समय, परिवार के सदस्यों का नाम और गोत्र (केवल 6) का उच्चारण किया जाएगा

  • CardLow

    आपकी ओर से बृहस्पति के साथ भगवान शिव को वस्त्र अर्पण किया जाएगा। इसकी रिकार्डेड वीडियो आपके साथ साझा की जाएगी

  • CardLow

    आप बृहस्पति के साथ भगवान शिव को भोग करने का चयन कर सकते हैं

  • CardLow

    आप अपने घर तक रुद्राक्ष माला पहुँचाने का चयन कर सकते हैं

  • CardLow

    काशी से प्रसाद आपके घर तक भेजा जाएगा

t3 Circle

3551

Family Guru Graha Shanti Yagya + Bhog

परिवार गुरु ग्रह शांति यज्ञ + भोग

t1 pricecardline
  • CardLow

    Link for Recorded Video of Brihaspati Yagya and Rudrabhishek Puja

  • CardLow

    Family Members' Name and Gotra (only 6) will be chanted during the Puja Sankalp

  • CardLow

    Bhog will be offered to Lord Shiva along with Brihaspati in your name and the recorded video for the same will be shared with you

  • CardLow

    You can choose to offer Vastra to Lord Shiva and Brihaspati and the video of the Offerings will be shared with you.

  • CardLow

    You can choose to add Rudraksha Mala for Home Delivery in India

  • CardLow

    Prasad will be shipped to your home from Kashi

  • CardLow

    बृहस्पति यज्ञ और रुद्राभिषेक पूजा की रिकॉर्डेड वीडियो का लिंक आपको भेजा जाएगा

  • CardLow

    पूजा संकल्प के समय, परिवार के सदस्यों का नाम और गोत्र (केवल 6)का उच्चारण किया जाएगा

  • CardLow

    आप बृहस्पति के साथ भगवान शिव को भोग करने का चयन कर सकते हैं। इसकी रिकार्डेड वीडियो आपके साथ साझा की जाएगी

  • CardLow

    आप बृहस्पति के साथ भगवान शिव को वस्त्र अर्पण करने का चयन कर सकते हैं।

  • CardLow

    आप अपने घर तक रुद्राक्ष माला पहुँचाने का चयन कर सकते हैं

  • CardLow

    मंदिर से आपके घर तक प्रसाद पहुँचाया जायेगा

bookendL

bookend

bookendL

bookend

Thursday, May 11, 2023

Sarva Siddhi Pradayak Guru Graha Pida Mukti Dayak Guru Shanti Yagya and Rudrabhishek

Thursday, May 11, 2023

सर्व सिद्धि प्रदायक गुरु ग्रह पीड़ा मुक्ति दायक गुरु शांति यज्ञ एवं रुद्राभिषेक

Sunday, October 16, 2022

Navagrah Shanti yagya, Prayagraj

Sunday, October 16, 2022

नवग्रह शांति यज्ञ, प्रयागराज

bookendL

bookend

Started by IIT graduates, DevDham (previously DevDarshan) is Devotional Platform for 5000+ Hindu Temples in the Indian Subcontinent. DevDham (previously DevDarshan)’s long term vision is to provide a Digital Platform to Temples and Gurus for sharing the millennia-old teachings of Indian culture in the world and by doing so, projecting Bharat (India) as Vishwa Guru (Universal Leader) through its rich cultural and spiritual heritage.


DevDham (previously DevDarshan) facilitates online Daily Darshan, Pujas and Digital Donations for Devotees. DevDham (previously DevDarshan) has onboarded 150+ Temples across 16 states including but not limited to Shaktipeeth Chamunda Devi (Kangra), Shaktipeeth Maa Bajreshwari Devi (Kangra), Shaktipeeth Maa Baglamukhi Mandir (Kangra), Shaktipeeth Maa Vindyavasini Mandir (Mirzapur), Shaktipeeth Maa Harsiddhi Mandir (Ujjain), Shaktipeeth Maa Gadhkalika Mandir (Ujjain), Shaktipeeth Tripura Sundari (Agartala), Bijasan Mata Mandir (Indore), Kalkaji Mandir (Delhi), Durgiana Mandir (Amritsar), Maa Mundeshwari Temple (Bihar), Jyotirlinga Ghushmeshwar Nath Temple (Pratapgarh), Jyotirlinga Mamleshwar (Omkareshwar), Prachin Vishnu Mandir (Omkareshwar), Kaal Bhairav Mandir (Ujjain), Chintaman Ganesh Mandir (Ujjain), Tapkeshwar Mandir (Dehradun), Pashupati Nath Mandir (Haridwar), Vrindavan Chandrodaya Temple, Badi Kali ji Mandir (Lucknow), Nagvasuki Mandir (Prayagraj), ISKCON (Vrindavan), ISKCON (Ghaziabad), ISKCON (Srinagar).


You can find more details about DevDham (previously DevDarshan) and our team.


IIT स्नातकों द्वारा आरम्भ किया गया, देवधाम (पहले देवदर्शन), भारत के 5000+ हिंदू मंदिरों के लिए आध्यात्मिक मंच है। देवधाम (पहले देवदर्शन) का दृष्टिकोण हिंदू मंदिरों और गुरुओं को एक डिजिटल मंच प्रदान करना जहाँ वे भारत की आध्यात्मिक शिक्षा एवं हिंदू जीवन शैली का प्रसार कर सके और पूरे विश्व को विश्वगुरु भारत की महान संस्कृति व विरासत का ज्ञान दे सके। देवधाम (पहले देवदर्शन) पर मंदिर दर्शन, पूजा बुकिंग और डिजिटल दान की सुविधा उपलब्ध है।


देवधाम (पहले देवदर्शन) मंच के साथ 16 राज्यों में स्थित 150+ मंदिर जुड़े हुए है: इनमें शक्तिपीठ चामुंडा देवी (कांगड़ा), शक्तिपीठ मां बजरेश्वरी देवी (कांगड़ा), सिद्धपीठ मां बगलामुखी मंदिर (कांगड़ा), शक्तिपीठ मां विंध्यवासिनी मंदिर (मिर्ज़ापुर) , शक्तिपीठ मां हरसिद्धि मंदिर (उज्जैन), शक्तिपीठ मां गढ़कालिका मंदिर (उज्जैन), शक्तिपीठ त्रिपुरा सुंदरी (अगरतला), बिजासन माता मंदिर (इंदौर), कालकाजी मंदिर (दिल्ली), माँ मुंडेश्वरी मंदिर (बिहार), ज्योतिर्लिंग घुश्मेश्वर नाथ (प्रतापगढ़), पशुपति महादेव मंदिर (हरिद्वार), ज्योतिर्लिंग ममलेश्वर (ओंकारेश्वर), प्राचीन विष्णु मंदिर (ओंकारेश्वर), काल भैरव मंदिर (उज्जैन), चिंतामन गणेश मंदिर (उज्जैन), टपकेश्वर मंदिर (देहरादून), जगन्नाथ पूरी, वृंदावन चंद्रोदय मंदिर, बडी काली जी मंदिर (लखनऊ), नागवासुकी मंदिर (प्रयागराज), इस्कॉन (वृन्दावन), इस्कॉन (गाज़ियाबाद), इस्कॉन (इंदौर), आदि शामिल हैं आप देवधाम (पहले देवदर्शन) और हमारी टीम के बारे में अधिक जानकारी यहाँ प्राप्त कर सकते हैं।


Devotees can watch the Live streaming or Recorded Video of Guru Graha Shanti Yagya and Rudrabhishek from Kashi.


Live Streaming or the Recorded Video of Puja will be available on DevDham (previously DevDarshan) App which you can download on your Android Smartphone. Live Streaming will also be available on DevDham (previously DevDarshan) YouTube Channel and DevDham (previously DevDarshan) Facebook page. More details will be shared with you via whatsapp and email once you register for the Puja.


Your Name and Gotra will be chanted during the Puja Sankalp. Please, make a wish in your mind while watching the Puja from your home and chant || ॐ गुरवे नम: || for fulfillment of your wishes while watching the Puja from your home.

पूजा के दिन, पंजीकृत श्रद्धालुओं के लिए, पूजा और आरती की लाइव स्ट्रीमिंग अथवा रिकार्डेड वीडियो उपलब्ध होगी।


पूजा की लाइव स्ट्रीमिंग अथवा रिकार्डेड वीडियो देवधाम (पहले देवदर्शन) ऐप में उपलब्ध होगी, जिसे आप इस लिंक के माध्यम से अपने एंड्रॉयड स्मार्टफ़ोन पर डाउनलोड कर सकते हैं।

पूजा की लाइव स्ट्रीमिंग अथवा रिकार्डेड वीडियो देवधाम (पहले देवदर्शन) यूट्यूब चैनल और देवधाम (पहले देवदर्शन) फेसबुक पेज पर भी उपलब्ध होगी। पूजा के लिए, पंजीकरण करने के पश्चात, और अधिक जानकारी व्हाट्सएप और ईमेल के माध्यम से आपके साथ साझा की जाएगी।


आपका नाम और गोत्र, पूजा में संकल्प के दौरान लिया जाएगा। कृपया, अपने घर से पूजा को देखते अपनी मनोकामना की पूर्ति के लिए ॐ गुरवे नम: का जाप करते रहें।


In astrology, Guru, that is, Jupiter is considered to be the most auspicious planet. It changes its sign once a year. Jupiter, which has been transiting in Pisces for the last one year, will now enter Aries on 22 April 2023. The transit of Jupiter in Aries will have an impact on all zodiac signs. Added to this, Rahu is already transiting in Aries. In such a scenario, Guru-Chandal Dosha will be formed in Zodiac Aries and according to the transit horoscope, this Chandal Dosha will also affect the natives of all zodiac signs.

Such as the natives of Aries will face problems in the work. For Taurians, expenses will increase. Income will be affected for Gemini natives. Cancer individuals will have to face professional challenges. Further, luck will not favour Leo sign individuals. Virgo natives will remain prone to accidents. For Librans, there can be differences created either between a life partner or between a business partner. Scorpio individuals may have to borrow money. There will be difficulty in the love life for Sagittarians whereas Capricorn natives will have to face a loss in the work related to property. Aquarians may face a decrease in their valour or strength. There can be differences with family members for Pisces.

In Astrology, Jupiter (Guru) is considered the factor of marriage, children, wealth and economic progress. In such a situation, Jupiter’s transit in Aries, where Rahu is already present creates a Guru-Chandal Yoga and this conjunction will impact all zodiac signs at a certain amount. Hence, to negate its ill effects, participating in Guru Shanti Puja will be beneficial.



ज्योतिष में गुरु यानी कि बृहस्पति को सबसे शुभ ग्रह माना जाता है। बृहस्पति साल में एक बार अपनी राशि बदलते हैं। पिछले एक साल से मेष राशि में गोचर कर रहे बृहस्पति 22 अप्रेल 2023 को मेष राशि में जाएंगे। मेष राशि में गुरु के जाने का सभी राशियों पर इसका असर होगा। मेष राशि में पहले से ही राहु अभी गोचर कर रहे हैं। ऐसे में मेष राशि में गुरु चांडाल दोष बनेगा और गोचर कुंडली के अनुसार इस चांडाल दोष का असर भी सभी राशि के लोगों पर होगा। जैसे मेष राशि के लोगों के काम में अड़चन आएगी। वृषभ के लिए व्यय बढ़ेगा। मिथुन के लिए आय प्रभावित होगी। कर्क के लिए व्यावसायिक दिक्कतों का सामना करना होगा। सिंह राशि के लोगों का भाग्य साथ नहीं देगा। कन्या राशि के लोगों को दुर्घटना की आशंका बनी रहेगी। तुला राशि के लिए जीवनसाथी या बिजनेस पार्टनर से मतभेद हो सकते हैं। वृश्चिक राशि के लोगों को उधार धन लेना पड़ सकता है। धनु राशि के लिए प्रेम जीवन में कठिनाई होगी। मकर राशि के जमीन-जायदाद के काम में नुकसान हो सकता है। कुंभ राशि के लोगों के पराक्रम में कमी आएगी। मीन राशि के लिए परिवार के लोगों से मतभेद हो सकते हैं।


गुरु को ज्योतिष शास्त्र में विवाह, संतान, धन और आर्थिक उन्नति का कारक माना जाता है। ऐसे में गुरु का राशि परिवर्तन कर राहु के साथ जाने से कहीं ना कहीं सभी लोगों को इसका प्रभाव देखने को मिलेगा। ऐसे गुरु शांति पूजा करवाने से लाभ होगा। 

If Guru becomes weak in the horoscope, then you might experience Failures in Life. The native is not able to complete their education and there could be repeated obstacles in their education. There could be a delay in marriage. There could be also difficulty in conceiving a child. There is no happiness and prosperity in the house. 


Different health problems arise such as obesity, anxiety, and stress. Diseases such as blood sugar and high blood pressure could be prevalent. Due to Guru Graha Dosha, other good planets also do not show their positive effects in the horoscope. Brihaspati Shanti Yagya and Rudrabhishek Puja remove the malefic effects of Guru and Navagrahas. The auspicious results of the planet Jupiter start coming in and you start achieving success and happiness in life.

गुरु यदि कुंडली में कमजोर हो जाते हैं, तो जीवन में समस्त प्रकार प्रगति रुक जाती है। जातक अपनी शिक्षा पूरी नहीं कर पाते हैं या बार-बार शिक्षा में बाधा आती है। विवाह में विलंब होता है। संतान प्राप्ति में मुश्किल आती है। परिवार में सुख-समृद्धि नहीं रहती है। मोटापा बढ़ने लगता है। ब्लड शुगर और हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियां होने लगती है। कमजोर गुरु के कारण कुंडली में अन्य शुभ ग्रह भी अपना प्रभाव नहीं दिखाते हैं। बृहस्पति शांति यज्ञ और रुद्राभिषेक पूजा से सभी प्रकार के लाभ होते हैं। बृहस्पति ग्रह के शुभ परिणाम मिलने लगते हैं और आपके कार्य बनने लगते हैं। कुंडली में गुरु की पूजा से अन्य ग्रह भी अपना प्रभाव दिखाते हैं।

Lord Shiva, otherwise called Rudra is believed to be the Lord of all the Planets. Performing the Rudrabhishek of Lord Shiva can give you the benefit of performing the puja of all Navagrahas. Lord Shiva Abhishek is a necessary ritual after Guru Shanti Yagya. All the sins can be resolved by participating in the Rudrabhishek. Participating in the Rudrabhishek helps to please all the Planets. Lord Shiva also gets pleased with the Rudrabhishek and grants the desired boon to the Devotees. Guru Brihaspatu is one of the most beloved devotte of Lord Shiva. It is said that the fruits of worshiping Jupiter along with Shiva worship could be attained quickly.


भगवान शिव यानी रुद्र सभी ग्रहों के अधिपति है। भगवान शिव की पूजा से सभी ग्रहों की पूजा हो जाती है। गुरु पूजा के बाद शिव अभिषेक जरूरी होता है। रुद्राभिषेक से पापों का समाधान किया जा सकता है। रुद्राभिषेक करने से सभी ग्रह प्रसन्न होते हैं। रुद्राभिषेक करने से भगवान शिव प्रसन्न होकर मनचाहा वरदान देते हैं। गुरु बृहस्पति भगवान शिव के सबसे प्रिय भक्तों में से एक थे। कहते हैं शिव पूजा के साथ गुरु पूजा करने का फल जल्दी प्राप्त होता है।


On the day of Guru Shanti Puja, you can observe a fast and worship Lord Shiva and Lord Vishnu. Before sunset, you can also help any needy student around you by donating books or stationery. You can offer gram dal in Lord Vishnu temple. At home, you can chant Lord Vishnu or Lord Shiva mantras.


गुरु शांति पूजा के दिन आप उपवास रखकर भगवान शिव और विष्णु की आराधना कर सकते हैं। सूर्यास्त से पहले आप अपने आसपास किसी जरूरतमंद विद्यार्थी की मदद भी कर सकते हैं। विष्णु मंदिर में चने की दाल अर्पण करें। घर पर रहकर आप विष्णु या शिव मंत्रों का जाप कर सकते हैं।

There is a tradition of offering clothes to Lord Shiva after performing his Rudrabhishek. Offering clothes to Lord Shiva is believed to bring Financial Benefits. It is believed that Lord Shiva loves green and white colours. Offering white or green colored clothes and Janeu to Lord Shiva brings success in life and one receives Lord Shiva's blessing.

भगवान शंकर के रुद्राभिषेक के बाद वस्त्र अर्पित करने की परंपरा है। शिव को वस्त्र अर्पण करने से आर्थिक उन्नति मिलती है। साथ ही वस्त्र अर्पण करने वाले व्यक्ति को कभी किसी बात की कमी नहीं होती है। मान्यता है कि भगवान शिव को हरा, सफेद या केसरिया रंग बेहद पसंद है। 

Bhog literally means offerings or blessings. Bhog offering is conducted for spiritual consciousness of an individual. In the path of devotion and spirituality, Bhog is offered to the Lord in the form of love as well as for blessings in the Path of Bhakti Yoga. On the auspicious day of Guru Puja, special bhog will be offered to Lord Shiva.


In Hinduism, there has been a tradition since ancient times to offer Prasad in a Temple or in front of an idol of Deity. Lord Shiva likes Bhang and Panchamrit in the form of Bhog. After bathing the Shivalinga with milk, curd, honey, sugar, ghee and water, hemp, sandalwood, flowers, roli and clothes are offered to Lord Shiva. It is also mentioned in Shiva Purana that Lord Shiva likes Bel Patra. It is believed that millions of virtues are attained by offering Bhog to Lord Shiva.

भोग का शाब्दिक अर्थ है प्रसाद भेंट अथवा आशीर्वाद। भोग प्रसाद व्यक्ति की आध्यात्मिक चेतना के लिए आयोजित किया जाता है। भक्ति योग के मार्ग में प्रेम के साथ-साथ आशीर्वाद के रूप में भगवान को भोग भेंट किया जाता है। 


गुरु पूजा के शुभ दिन पर,भगवान शिव को विशेष भोग लगाया जाएगा। हिन्दू धर्म में मंदिर में या किसी देवी या देवता के समक्ष प्रसाद चढ़ाने की प्राचीनकाल से ही परंपरा रही है। शिव को भोग के रुप में फल और पंचामृत का नैवेद्य पसंद है। भोले को दूध, दही, शहद, शक्कर, घी, जल से स्नान कराकर भांग-धतूरा, चंदन, फूल, फल रोली, वस्त्र अर्पित किए जाते हैं। भगवान शिव को बेलपत्र बेहद पसंद है। भगवान शिव भक्तों के भोग से प्रसन्न होकर उन्हें सौ गुना ज्यादा फल प्रदान करते हैं।


In case, you don't know your Gotra, add your caste during the registration process for Puja. In case you don’t know that, add your full name during the registration process. These details would be chanted by Pandit ji during Puja. Feel free to contact us at +919015367944

यदि आपको अपना गोत्र पता नहीं है, पूजा के लिए पंजीकरण प्रक्रिया के दौरान अपनी जाति लिखे। यदि ,आप यह भी नहीं जानते तो, पंजीकरण प्रक्रिया के दौरान अपना पूरा नाम लिखे। इन विवरणों का पंडित जी द्वारा पूजा के दौरान जाप किया जाएगा। आप हमसे यहाँ पर समपर्क +919015367944 कर सकते है।

DevDham (previously DevDarshan) has family packages available for Puja. Please contact us at +919015367944 via a call or WhatsApp for the family package.

देवधाम (पहले देवदर्शन) में पूजा के लिए पारिवारिक पैकेज उपलब्ध हैं। परिवार पैकेज के लिए कॉल या व्हाट्सएप के माध्यम से +919015367944 संपर्क कर सकते है।

bookendL

bookend
WhatsappImage
WhatsappImage